पटना/पाटलिपुत्र स्टेशन पर एक और प्लेटफार्म हुआ चालू, राजधानी और कई ट्रेने कनेक्ट करेगी पुरा बिहार


 

बिहार में, रेलवे कई परियोजनाओं में लगा हुआ है। बिना रेल रूट के कई जगहों पर नई रेल लाइनें लग रही हैं, जबकि सिंगल लाइन की नकल की जा रही है। साथ ही स्टेशनों की सुविधाओं में भी सुधार किया जा रहा है। इसी कड़ी में पटना के पाटलिपुत्र जंक्शन पर एक और प्लेटफॉर्म निर्माण का प्रोजेक्ट लगभग पूरा हो चुका है. केवल कुछ छोटे विवरण शेष हैं।

अब पाटलिपुत्र से ही होगा इन ट्रेनों का परिचालन।

आपको बता दें कि दीघा ब्रिज का ट्रेन ट्रैक भी दोगुना हो गया है। ऐसे में जल्द ही पाटलिपुत्र स्टेशन से और ट्रेनें रवाना होंगी। संघमित्रा एक्सप्रेस, पटना-पुणे एक्सप्रेस, पाटलिपुत्र-बरौनी मेमू पैसेंजर और पाटलिपुत्र-जयनगर इंटरसिटी का परिचालन वर्तमान में पाटलिपुत्र से शुरू होने वाला है। इसके अलावा मेन लाइन पर कुछ और ट्रेनों को भी यहां बदला जा सकता है।

350 करोड़ की लागत से रीडिवेलप हुआ है पाटलिपुत्र स्टेशन।

मुजफ्फरपुर-छपरा लाइन पर कुछ ट्रेनें पाटलिपुत्र जंक्शन से भी गुजरने के लिए तैयार हो रही हैं। अगस्त तक यहां से ट्रेनों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है। ऐसे में पाटलिपुत्र जंक्शन से उत्तर बिहार का सफर आसान होगा। वर्तमान में पाटलिपुत्र जंक्शन से 8 अवकाश के रूप में 28 ट्रेनें गुजरती हैं। पूर्व मध्य रेलवे के सीपीआरओ वीरेंद्र कुमार ने भविष्यवाणी की कि जैसे-जैसे समय बीतता जाएगा, ट्रेनों की संख्या बढ़ेगी। पाटलिपुत्र स्टेशन का 350 करोड़ रुपये का जीर्णोद्धार किया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *